Haath Se Haath Jodo Abhiyan | 26 जनवरी से कांग्रेस शुरू करेगी हाथ से हाथ जोड़ो अभियान जाने

Haath Se Haath Jodo Abhiyan | भारत जोड़ो यात्रा’ के बाद कांग्रेस की 26 जनवरी से ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान की तैयारी | नए साल में प्रदेश कांग्रेस को मिलेंगे 400 ब्लॉक अध्यक्ष

युवाओं-महिलाओं को भी मिलेगी प्राथमिकता, 26 जनवरी से शुरू होने वाले ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान 

Haath Se Haath Jodo Abhiyan Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने शुक्रवार (23 दिसंबर) को दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में कांग्रेस महासचिवों, राज्य प्रभारियों, PCC अध्यक्षों और CLP नेताओं की बैठक की अध्यक्षता की. खरगे ने 26 जनवरी से कांग्रेस की ओर से शुरू होने वाले दो महीने के ‘हाथ से हाथ जोड़ो अभियान’ को आगे बढ़ाने पर पार्टी महासचिवों, विभिन्न राज्यों के प्रभारियों, पीसीसी अध्यक्षों और सीएलपी नेताओं के साथ विचार-विमर्श भी किया.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, महासचिव मुकुल वासनिक, रणदीप सुरजेवाला, तारिक अनवर समेत सभी पीसीसी अध्यक्ष व कांग्रेस विधायक दल के नेता मौजूद रहे. 

Haath Se Haath Jodo Abhiyan क्या है

बैठक में खरगे ने सभी प्रदेश अध्यक्षों और राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के लिए तारीफ़ की गई. उन्होंने कहा, ‘इस यात्रा की सफलता को देखते हुए 26 जनवरी से पूरे देश में गांव, ब्लॉक और जिला स्तर पर यात्रा करने की योजना बनाई गई है. बाद में सभी राज्य मुख्यालयों पर बड़ी रैली होगी, जिसमें राहुल गांधी शामिल होंगे.’

हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान 2023

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “हाथ से हाथ जोड़ो अभियान ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का फॉलोअप होगा. ये यात्रा 2 महीने तक चलेगी. भारत जोड़ो यात्रा को देखकर बीजेपी के लोग परेशान हो रहे हैं क्योंकि इस यात्रा के दौरान राहुल गांधी को बदनाम करने की कोशिश की गई. अब उनकी यात्रा को रोकने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया कोविड का हवाला दे रहे हैं, जबकि पीएम मोदी और उनके मंत्री रैली व सभा कर रहे हैं.”

अन्य लोगों को शेयर करे

Leave a Comment