Site icon The India News

एक फरवरी से बदल जाएंगे ये 3 नियम, जानें क्या होगा आपके ऊपर असर

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) पब्लिक सेक्टर का सबसे बड़ा लेंडर है. ऐसे में बैंक के किसी भी ट्रांजैक्शन के रेट में होने वाले किसी भी तरह के बदलाव का असर आम लोगों पर पड़ता है और एक फरवरी से बैंक के IMPS Rates में बदलाव होने जा रहा है

बैंकिंग से जुड़े नियमों या दरों में किसी तरह के बदलाव का असर करोड़ों लोगों पर पड़ता है. इसके साथ ही रेलवे और पोस्ट ऑफिस से जुड़े नियमों में परिवर्तन व एलपीजी कीमतों में बदलाव जैसी चीजें भी काफी अहम होती हैं. इसी वजह से इन चीजों में किसी भी तरह का परिवर्तन महीने के पहले दिन से लागू किया जाता है. ऐसे में हर नए महीने के साथ कुछ नियमों में होने वाले परिवर्तन लागू होते हैं. एक फरवरी से भी कुछ नियमों और दरों में बदलाव होने वाला है. आइए डालते हैं कुछ प्रमुख बदलावों पर ये नजर..

SBI के IMPS नियमों में बदलाव
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) पब्लिक सेक्टर का सबसे बड़ा लेंडर है. ऐसे में बैंक के किसी भी ट्रांजैक्शन के रेट में होने वाले किसी भी तरह के बदलाव का असर आम लोगों पर पड़ता है और एक फरवरी से बैंक के IMPS Rates में बदलाव होने जा रहा है. स्टेट बैंक अब दो लाख रुपये तक के IMPS पर किसी तरह का चार्ज नहीं वसूलेगा. इसी तरह आरबीआई द्वारा IMPS की लिमिट बढ़ाकर पांच लाख रुपये तक किए जाने के बाद बैंक ने भी IMPS की लिमिट को बढ़ाकर पांच लाख रुपये कर दिया है. स्टेट बैंक ने कहा है कि अगर कोई ग्राहक इंटरनेट बैंकिंग/ मोबाइल बैंकिंग (YONO SBI सहित) जैसे डिजिटल चैनल से पांच लाख रुपये तक का IMPS करता है तो उससे कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा

ब्रांच के जरिए IMPS पड़ेगा महंगा
स्टेट बैंक ने कहा है कि अगर कोई व्यक्ति बैंकिंग चैनल के जरिए IMPS करता है तो उसके लिए पहले से जारी शुल्क बरकरार रहेगा. इसके मुताबिक बैंक के ब्रांच से 1,000 रुपये तक के IMPS पर कोई शुल्क नहीं देना होगा. वहीं, 1,000 रुपये से लेकर 10,000 रुपये तक के IMPS पर 2 रुपये + जीएसटी, 10 हजार रुपये से लेकर एक लाख रुपये तक के IMPS पर 4 रुपये + जीएसटी और एक लाख रुपये से दो लाख रुपये तक के IMPS पर पहले की तरह 12 रुपये + जीएसटी देना होगा. दो लाख रुपये से पांच लाख रुपये का नया स्लैब जोड़ा गया है. इस स्लैब के तहत 20 रुपये + जीएसटी देना होगा.

LPG Cylinder Price: भारत में करोड़ों लोग रसोई गैस यूज करते हैं. ऐसे में रसोई गैस की कीमत में होने वाले बदलाव पर सबकी नजर रहती है. ऑयल मार्केटिंग कंपनियां हर महीने की एक तारीख को रसोई गैस सिलेंडर और कॉमर्शियल सिलेंडर के रेट जारी करती है. दिल्ली में इस समय नॉन-सब्सिडाइज्ड रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 899.50 रुपये है. वहीं, कोलकाता में यह रेट 926 रुपये, मुंबई में 899.50 रुपये और चेन्नई में 915.50 रुपये है. कॉमर्शियल सिलेंडर का दाम दिल्ली में 1998.50 रुपये, कोलकाता में 2,076 रुपये, मुंबई में 1,948.50 रुपये और चेन्नई में 2,131 रुपये है.

शेयर करे
Exit mobile version